खोज

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकसभा में जिम्मेदार विपक्ष की जरूरत पर दिया जोर, तीसरे कार्यकाल में तीन गुना काम करने का वादा

जून 24 विवेक शर्मा 0 टिप्पणि

लोकसभा में जिम्मेदार विपक्ष की आवश्यकता पर मोदी का जोर

18वीं लोकसभा के पहले सत्र की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मीडिया को संबोधित करते हुए जोर देकर कहा कि देश को एक जिम्मेदार विपक्ष की जरूरत है। उन्होंने कहा कि संसद में हो रहे हंगामे और नाटक को हटाकर जनता रचनात्मक बहस और सार्थक चर्चाएं देखना चाहती है। मोदी ने विपक्ष से अपील की कि वे अपनी भूमिका को सही ढंग से निभाएं और लोकतंत्र की मर्यादा का पालन करें।

तीसरे कार्यकाल में सरकार तीन गुना अधिक काम करने को तैयार

प्रधानमंत्री मोदी ने आश्वासन दिया कि उनकी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सरकार अपने तीसरे लगातार कार्यकाल में तीन गुना अधिक काम करेगी। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार के विकास और प्रगति की जनता ने उनसे अपेक्षा की है, उसे पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। मोदी ने यह भी कहा कि सरकार हर व्यक्ति को साथ लेकर चलने की कोशिश करेगी और लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने में प्रतिबद्ध रहेगी।

आपातकाल की 50वीं वर्षगांठ पर विशेष विचार

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए बताया कि इस साल 25 जून को आपातकाल की 50वीं वर्षगांठ है। उन्होंने उस घटना को भारत के लोकतंत्र पर एक 'काला धब्बा' बताया, जब संविधान को दरकिनार कर दिया गया था। मोदी ने यह भी दोहराया कि उनकी सरकार 'श्रे�त्र भारत' और 'विकसित भारत' के निर्माण के लिए कड़ी मेहनत करेगी।

विपक्ष की भूमिका पर मोदी की चिंता

विपक्ष की भूमिका पर मोदी की चिंता

प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि अब तक विपक्ष काफी निराशाजनक रहा है। उन्होंने भविष्य में विपक्ष से जिम्मेदार और रचनात्मक भूमिका निभाने की उम्मीद जताई। मोदी का कहना है कि देश को मजबूत विपक्ष की जरूरत है, जो सरकार को समय-समय पर सही दिशा में चलने के लिए मार्गदर्शन और आलोचना कर सके। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि सशक्त लोकतंत्र के लिए प्रभावी और सकारात्मक विपक्ष अनिवार्य है।

सरकार की प्राथमिकताएं

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में यह भी स्पष्ट किया कि उनकी सरकार की प्राथमिकताएं क्या हैं। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का हर कदम देश की जनता के लिए उठाया जाएगा और उनकी आवश्यकताओं को सर्वोपरि रखा जाएगा। मोदी ने खासकर युवा और महिलाओं के विकास पर जोर दिया और कहा कि रोजगार और शिक्षा के क्षेत्र में बड़े परिवर्तन किए जाएंगे।

संसद में बहस और विचारों की आवश्यकता

प्रधानमंत्री ने संसद की गरिमा बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि वहाँ बहस होनी चाहिए, न कि हंगामा। उन्होंने कहा कि सार्थक बहस सरकार को न केवल खुद को साबित करने का मौका देती है बल्कि नए विचारों और सुझावों को भी सामने लाती है। उन्होंने कहा कि इससे लोकतंत्र मजबूत होता है और जनता की भलाई होती है।

नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि लोकसभा में एक जिम्मेदार और सक्रिय विपक्ष का होना बेहद जरूरी है ताकि सरकार समय-समय पर अपने कार्यों के लिए चुनौती महसूस कर सके और अपने काम में और सुधार ला सके।

भारत का आर्थिक विकास और समृद्धि

भारत का आर्थिक विकास और समृद्धि

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में भारत के आर्थिक विकास और समृद्धि पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि आर्थिक सुधारों को और गति दी जाएगी और नई नीतियां लागू की जाएंगी जो देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करेंगी। मोदी ने यह भी बताया कि मौजूदा सरकार का उद्देश्य है कि हर भारतीय को अवसर मिले और किसी को भी पीछे न छूटा जाए।

नागरिक सेवाओं को मिलेगा बढ़ावा

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनकी सरकार नागरिक सेवाओं को और अधिक सुदृढ़ और असरदार बनाएगी। उन्होंने कहा कि नई तकनीकों और डिजिटलाइजेशन का उपयोग कर नागरिक सेवाओं की गुणवत्ता को बढ़ाया जाएगा और लोगों की समस्याओं का तुरंत समाधान सुनिश्चित किया जाएगा।

मोदी ने यह भी कहा कि कृषि क्षेत्र में तकनीकी नवाचारों और सुधारों पर ध्यान दिया जाएगा ताकि किसानों को बेहतर उत्पादन और लाभ मिल सके।

अंतरराष्ट्रीय संबंधों में भारत की स्थिति

मोदी ने अंतरराष्ट्रीय संबंधों में भारत की बढ़ती स्थिति पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि विदेश नीति के क्षेत्र में भी उनकी सरकार ने विशेषज्ञता और कुशलता के साथ काम किया है, जिसका परिणाम यह है कि आज भारत को वैश्विक मंच पर एक महत्वपूर्ण और सक्षम खिलाड़ी के रूप में देखा जाता है।

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता हमेशा से देश के नागरिकों की सुरक्षा और समृद्धि रही है और वे इसे बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएंगे।

विवेक शर्मा

विवेक शर्मा (लेखक )

मैं एक अनुभवी पत्रकार हूं जो रोज़मर्रा के समाचारों पर लेखन करता हूं। मेरे लेख भारतीय दैनिक समाचारों पर गहन विश्लेषण प्रदान करते हैं। मैंने विभिन्न समाचार पत्र और ऑनलाइन प्लेटफार्म के लिए काम किया है। मेरा उद्देश्य पाठकों को सही और सटीक जानकारी प्रदान करना है।

अपनी टिप्पणी टाइप करें

आपका ई-मेल पता सुरक्षित है. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं (*)