खोज

व्रज आयरन एंड स्टील IPO: जीएमपी रु 90; आवेदन का अंतिम दिन जानें सब्सक्रिप्शन स्थिति

जून 28 विवेक शर्मा 0 टिप्पणि

व्रज आयरन एंड स्टील का IPO: निवेशकों के लिए सुनहरा मौका

व्रज आयरन एंड स्टील का प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव (IPO) शुक्रवार, 28 जून को जनता के लिए सब्सक्रिप्शन के लिए बंद हो रहा है। यह IPO बुधवार, 26 जून को खोला गया था और इसमें कंपनी ने पहले ही एंकर निवेशकों से 51 करोड़ रुपये जुटा लिए हैं।

कुल 171 करोड़ रुपये के इस इश्यू के तहत कंपनी 24,78,259 इक्विटी शेयर एंकर निवेशकों को 207 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर आवंटित कर चुकी है। प्रमुख एंकर निवेशकों में वोल्राडो वेंचर पार्टनर्स फंड IV, कैपरी ग्लोबल हाउसिंग फाइनेंस, अशिका ग्लोबल सिक्योरिटीज, राजस्थान ग्लोबल सिक्योरिटीज, लीडिंग लाइट फंड VCC - द ट्रायम्फ फंड और एस्टोर्न कैपिटल VCC - अर्वेन जैसे नाम शामिल हैं।

कीमत सीमा और ग्रे मार्केट प्रीमियम

इस IPO के लिए कीमत सीमा 195 रुपये से 207 रुपये प्रति शेयर निर्धारित की गई है। इसके अलावा, ग्रे मार्केट में व्रज आयरन एंड स्टील के शेयरों का प्रीमियम 90 रुपये प्रति शेयर है, जिससे इसके संभावित सूचीबद्ध मूल्य का अनुमान 297 रुपये लगाया जा रहा है। यह निवेशकों के लिए लगभग 43.48 प्रतिशत का संभावित लाभ दर्शाता है।

IPO की संरचना

IPO की संरचना

इस IPO में पूरी तरह से नई इक्विटी शेयरों का निर्गम है, जिसमें कोई भी बिक्री के लिए प्रस्ताव शामिल नहीं है। कंपनी ने इस IPO के माध्यम से जुटाई गई वित्तीय राशि का उपयोग अपने बिलासपुर प्लांट के विस्तार के लिए पूंजीगत व्यय आवश्यकताओं को पूरा करने और सामान्य कॉरपोरेट उद्देश्यों के लिए करने की योजना बनाई है।

कंपनी की आगामी योजनाएँ

कंपनी बिलासपुर प्लांट के विस्तार के लिए 164.50 करोड़ रुपये का निवेश करेगी, जिससे कंपनी की उत्पादन क्षमता में वृद्धि होगी। इस प्‌लांट के विस्तार से कंपनी की प्रतिस्पर्धात्मकता में भी सुधार होगा।

संबंधित सेवाएँ और प्रबंधक

संबंधित सेवाएँ और प्रबंधक

इस इश्यू के लिए आर्यमान फाइनेंशियल सर्विसेज एकमात्र बुक-रनिंग लीड मैनेजर है, जबकि बिगशेयर सर्विसेज रजिस्ट्रार के रूप में कार्यरत है।

सब्सक्रिप्शन की स्थिति

शुक्रवार, 28 जून, आखिरी दिन की दोपहर 1:30 बजे, मुख्य बोर्ड IPO को 53.27 बार सब्सक्राइब किया गया था। रिटेल हिस्से का हिस्सा 37.77 बार बुक किया जा चुका था, जबकि NII (गैर-संस्थागत निवेशक) खंड 124.5 बार और QIB (योग्य संस्थागत खरीदार) खंड 25.21 बार भरा गया था।

प्रतिभूतियों का आवंटन 1 जुलाई, 2024 को अंतिम रूप से किया जाएगा, जिससे निवेशकों को जल्द ही अपने निवेश का फल मिलने की उम्मीद है।

निवेशकों के लिए महत्वपूर्ण अवसर

निवेशकों के लिए महत्वपूर्ण अवसर

यह IPO निवेशकों के लिए एक महत्वपूर्ण अवसर है, क्योंकि कंपनी की आगामी योजनाएँ और हाई ग्रोथ पोटेंशियल, दोनों ही दीर्घकालिक निवेश आकर्षण को बढ़ाते हैं। जो निवेशक उच्च रिटर्न की तलाश में हैं, उन्हें यह एक सुनहरा मौका मिल सकता है।

विवेक शर्मा

विवेक शर्मा (लेखक )

मैं एक अनुभवी पत्रकार हूं जो रोज़मर्रा के समाचारों पर लेखन करता हूं। मेरे लेख भारतीय दैनिक समाचारों पर गहन विश्लेषण प्रदान करते हैं। मैंने विभिन्न समाचार पत्र और ऑनलाइन प्लेटफार्म के लिए काम किया है। मेरा उद्देश्य पाठकों को सही और सटीक जानकारी प्रदान करना है।

अपनी टिप्पणी टाइप करें

आपका ई-मेल पता सुरक्षित है. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं (*)